मेरे ब्लॉग के किसी भी लेख को कहीं भी इस्तमाल करने से पहले मुझ से पूछना जरुरी हैं

मेरे ब्लॉग के किसी भी लेख को कहीं भी इस्तमाल करने से पहले मुझ से पूछना जरुरी हैं

December 29, 2010

मेरा कमेन्ट यहाँ

थैंक गोड इस पूरे वर्ष मे आप ने मेरे ऊपर कोई पोस्ट नहीं लिखी अपने ब्लॉग पर सो मूर्ख और कालिदास के टेग से बच गयी । जिन पर लिखी थी आपने वो जो थे वो नहीं हैं ये आप की ये पोस्ट बता रही हैं । अब अगले साल जितने फीचर्ड ब्लोगर होगे अगर आप उनकी तारीफ़ कर रहे होगे तो मै तो समझ लूंगी की असलियत मे वो क्या हैं क्युकी साल के आखिर तक इंतज़ार कर के समझने सो बेहतर ही होगा । निर्मल हास्य की तरह ले मेरा कमेन्ट वरना श्रीमती सक्सेना ने दरवाजे खोल ही रखे हैं मेरे लिये { लीजिये ये भी आप ही ने कहा हैं कही , निर्मल हास्य मे की मै सबकी पत्नियों के ईमेल आ ई डी मांगती घुमती हूँ }
शुभकामना हैं अगले वर्ष आप सपत्निक मिले किसी ब्लॉग मीट मे ।
किसी का एक आंसू,बिना उस पर अहसान किये, पोंछ सका, तो अगले वर्ष अपना मन संतुष्ट मान लेंगे ..
बस अगर ऐसा कर सके तो ब्लॉग पर ना दे पोस्ट बना कर क्युकी इश्वर हमारे उन्ही अच्छे कार्यो का लेखा जोखा रखता हैं जिन का हम प्रचार नहीं करते , पढ़ा था ये कहीं सो बाँट रही हूँ
नया साल आप को और आप के अपनों को शुभ हो

मेरा कमेन्ट यहाँ

2 comments:

Blog Archive